Bihar Bed Course Closed: बंद हुई बिहार बीएड कोर्स?, जाने पूरी जानकारी

Bihar Bed Course Closed – As per our reader’s demand and comments, we are publishing this article. If you want to know about the Bihar Bed Course Closed, continue reading and learn more.

Bihar Bed Course Closed

According to recent News, the Bihar BEd course has been closed by the Bihar government. It is unclear why the course has been closed or if it will be reopened in the future. However, it appears that the registration process for the Bihar B.Ed CET 2023 has already ended, and candidates who have already applied for the exam will likely receive further updates from the authorities.

Bihar Bed Course Closed
Bihar Bed Course Closed

दोस्तों आप सभी को जानकर हैरानी होगी कि बिहार में एक नई शिक्षा नीति को लागू किया जा रहा है आपको बता दें कि बिहार में भीड़ को बंद कर दिया जाएगा परंतु फ़िलहाल अभी बिहार के Bihar Bed Course Closed नहीं किया जाएगा धीरे धीरे करके वह बंद किया जाएगा |

हम आपको बता दें कि बिहार सरकार एक नई प्रक्रिया जारी किए नए वाली यह बिहार में ढाई शिक्षक बनाने के लिए फ़िलहाल धीरे धीरे करके बिहार भगदड़ और स्कूल बंद किया जाएगा और इसके लिए एक नया कोर्स की शुरुआत की जाएगी जिसके बारे में अभी फ़िलहाल कोई भी शिकारी नहीं दी गई है जैसे जानकारी मिली है कि हम आपको सबसे पहले देने की कोशिश करेंगे ।

Bihar Bed Course Closed – Overview

Post Name Bihar Bed Course Closed
Course NameBed Course
Old Course Duration 2 Year
New Course B.A Bed / B.Sc Bed / B.Com Bed

Read More

New Update For Bihar Bed Course Closed

दस्ते आपको बता दें कि बिहार में नई शिक्षा नीति 2 हज़ार इसके तहत जो दो वर्ष ये बीएड कोर्स चलायी जा रही थी उसे बंद करने की पूरी तैयारी की जा चुकी है ।

आपको बता दें कि साल 2030 के पहले सभी संस्थानों में जो दो वारसी है बीएड कोर्स चलाए जा रही थी उसे बंद कर दी जाएंगी दो बार से बीएड कोर्स के बदले अब चार वर्षीय इंटिग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम चलाया जाएगा ।

फ़िलहाल आपको बतादें जो भी आ स्नातक कोर्स विश्वविद्यालय चलाते हैं वह सभी चार वर्षीय ITPI जो नया कोर्स चलाया जा रहा है उसे भी चला सकते हैं ।

Bihar Bed Course Closed : अब इंटीग्रेटेड कोर्स के माध्यम से होगी बीएड की पढाई

अब शुरू करते हुए, छात्र एकीकृत पाठ्यक्रम में दाखिला लेने के लिए पात्र हैं जो Ba B.Ed, B.Sc B.ed, और B.com B.ed. को जोड़ती है। हालांकि, वे केवल अपने अंतर को पूरा करने के बाद ऐसा कर सकते हैं। इस पाठ्यक्रम को आगे बढ़ाकर, छात्र अपने स्नातक स्तर की पढ़ाई के साथ -साथ बी.एड डिग्री अर्जित करेंगे। स्नातक या पोस्ट-ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद एक अलग B.ED को आगे बढ़ाने की आवश्यकता नहीं है। 4-वर्षीय एकीकृत पाठ्यक्रम अब B.ED डिग्री के लिए अध्ययन करने का एकमात्र तरीका है। यह कार्यक्रम उन छात्रों के लिए उपलब्ध है जिन्होंने अपनी 12 वीं कक्षा पूरी कर ली है।

Bihar BEd Course Closed इंटीग्रेटेड बीएड में नामांकन की प्रक्रिया

बीएड कोर्स को लेकर नए बदलाव के अनुसार अब चार वर्षीय स्नातक इंटीग्रेटेड बीएड कोर्स में दाखिला लेने के लिए परीक्षा का आयोजन किया जायेगा | इसके तहत नामांकन नेशनल कॉमन एंट्रेंस टेस्ट के माध्यम से लिए जायेगे | नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के माध्यम से ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जायेगा | पायलट प्रोजेक्ट के पहले चरण में भी यही प्रक्रिया लागु है | इसकी परीक्षा भी एनटीए ने ही ली है |

Important Link

Join TelegramClick Here
Latest JobClick Here

निष्कर्ष :-

दोस्तों यह थी आज की Bihar Bed Course Closed 2023 के बारें में सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में आपको Bihar Bed Course Closed इसकी सम्पूर्ण जानकारी बताने की कोशिश की गयी है |

ताकि आपके Bihar Bed Course Closed से जुडी जितने भी सारे सवालो है, उन सारे सवालो का जवाब इस आर्टिकल में मिल सके.

तो दोस्तों कैसी लगी आज की यह जानकारी, आप हमें Comment box में बताना ना भूले, और यदि इस आर्टिकल से जुडी आपके पास कोई सवाल या किसी प्रकार का सुझाव हो तो हमें जरुर बताएं |

और इस पोस्ट से मिलने वाली जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Social Media Sites जैसे- Facebook, twitter पर ज़रुर शेयर करें |

ताकि उन लोगो तक भी यह जानकारी पहुच सके जिन्हें Bihar Bed Course Closed 2023 की जानकारी का लाभ उन्हें भी मिल सके |

Shubham Kumar
Shubham Kumar
Shubham Kumar is a passionate blogger with a deep interest in providing the latest information on jobs, education, scholarships, and government schemes. His mission is to empower his readers with the knowledge they need to achieve their goals and lead fulfilling lives.

Leave a Comment